Breaking News

युवाओ के नए विकल्प के साथ "सोशलिस्ट यूथ फ्रंट - इण्डिया" (S.Y.F) का गठन !


! आज दिनांक 6 दिसम्बर को अर्बन हॉस्पिटल उझानी बदायूँ में युवा नेताओ ने मिलकर युवाओ के अधिकार व सम्मान के लिए, उनकी लड़ाई को मजबूती से लड़ने के लिए,एक नए विकल्प,के रूप में सोशलिस्ट यूथ फ्रंट - इण्डिया" (S.Y.F) संगठन का गठन किया, साथ ही संगठन की पहली बैठक भी हुई बैठक में सर्वप्रथम डॉ आसिफ इक़बाल ने संगठन के संस्थापक सैय्यद शुएब नक़वी के नाम का प्रस्ताव संगठन के प्रमुख संयोजक पद के लिए रखा जिसको सभी सदस्यों के द्वारा सर्वसम्मति से पास करते हुए एक स्वर में संस्थापक सैय्यद शुएब नक़वी को संगठन का प्रमुख संयोजक नियुक्त किया गया,जिसके बाद संगठन की कोर कमेटी का भी गठन किया गया,कोर कमेटी में। रजत यादव बदायूँ - सह संयोजक,असद हुसैन कासगंज - सह संयोजक,सौरभ सक्सेना बदायूँ - सह संयोजक,वैभव उपाध्याय बदायू - सह संयोजक,डॉ आसिफ इक़बाल उझानी - प्रमुख सचेतक,नवीन यादव संभल - संस्थापक सदस्य,सौरभ यादव मुरादाबाद - संस्थापक सदस्य,समशुद्दीन राइन इलाहाबाद - संस्थापक सदस्य,असलम ठाकुर नोएडा - संस्थापक सदस्य,मुहम्मद परवेज़ सहसवान - संस्थापक सदस्य,मुहम्मद नबी सहसवान - संस्थापक सदस्य, के साथ ही यूनुस सैफी उझानी को SYF आई टी सेल का प्रमुख बनाया गया। बैठक में सर्व प्रथम बाबा साहेब डॉ भीम राव अम्बेडकर जी के परिनिर्वाण दिवस पर उनके चित्र पर पुष्प मालाये चड़ा कर शृद्धाजंलि दी गयी। बैठक की अध्यक्षता करते हुए SYF संगठन के संस्थापक/प्रमुख संयोजक सैय्यद शुएब नक़वी ने कहा कि आज का दिन 6 दिसम्बर देश के इतिहास में बहुत महत्वपूर्ण है पहला यह कि आज का दिन बाबा साहेब भीम राव अम्बेडकर जी की पुण्यतिथि को देश परिनिर्वाण दिवस के रूप में मानता है वही आज देश की अराजक ताक़ते बाबा साहब के दिये संविधान को ताक पर रख कर देश को और उसके युवा वर्ग को विनाश की ऒर धकेल रही है और दूसरा आज ही के दिन देश की साम्प्रदायिक ताक़तों ने मिलकर वर्षो पहले देश के भाईचारे का क़तलेआम करते हुए बाबरी मस्जिद को शहीद किया और उसके बाद जो देश के हालात नफरतों में बदले वोह सालो बीत जाने के बाद भी आज तक दिलो से नही निकल रहे बल्कि देश की अराजकतत्वों के द्वारा देश के युवाओ को और तेज़ी के साथ इस नफरत की आग में झोंका जा रहा है, देश व प्रेदेश के युवाओ को शिक्षा व रोजगार से वंचित रखते हुए उनको मात्र साम्प्रदायिकता का पाठ पड़ा कर उसके भविष्य को चौपट किया जा रहा है। देश व प्रदेश की इन्ही परिस्थितियों व आज के दिन के इतिहास को देखते हुए, हम सब साथियो के द्वारा मिलकर नए जोश, जुनून और होसलो के साथ, "सोशलिस्ट यूथ फ्रंट - इण्डिया" (S.Y.F) संगठन का गठन किया जा रहा है यह संगठन सेक्युलर के साथ ही, एक धर्मनिर्पेक्ष संगठन होगा जिसका उद्देश देश व प्रदेढ़ मे फैले जाती,धर्मो,वर्गों के बीच फसे युवाओ को बाहर निकाल कर, युवा शक्ति को एक जुट कर देश व प्रदेश की सेवा करना होगा। S.Y.F प्रदेश के युवाओ के मान-सम्मान की हर सम्भव लड़ाई लड़ेगा, युवाओ को राजनीति में एक नया आयाम देगा, युवाओ को साम्प्रदायिकता की आग से बचाने के लिए, उनके भयिष्य को उज्ज्वल बनाने में सहयोग देने के लिए,उनके काम के लिए,उनकी अलग पहचान के लिए, युवाओ के एक नए विकल्प के रूप में, उनके अधिकार की आवाज़ बनेगा । डॉ आसिफ इक़बाल,रजत यादव,व असद हुसैन ने कहा कि हम ने महात्मा गांधी,मौलाना अबुल कलाम आज़ाद,डॉ भीमराव अम्बेडकर,सर सय्यद अहमद खां,चंद्रशेखर आज़ाद,भगत सिंह,जयप्रकाश नारायण,राम मनोहर लोहिया,पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर, पूर्व राष्ट्रपति अबुल कलाम आदि महापुरुषों को SYF संगठन का मार्गदर्शक माना हैं संगठन समाजवाद की परिभाषा से इन्ही के दिखाए रास्ते पर चल कर समाजवाद के आन्दोलन को आगे बड़ाने का काम करेगा। बैठक में मोहम्मद शाहिद राइन,जितेंद्र कश्यप,मोहम्मद जुनैद,पवन यादव,मो नाज़िम,शान मुहम्मद फारूकी,शिवम श्रीवास्तव,मुहम्मद अफसर राइन, आदिल राइन,हामिद अली,अफज़ल सैफी, सोहिल राइन,उवैस,आदि साथी उपस्थित रहे। शाह आलम



Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.

Related News