जल्द टिकट बांटने का राग अलापा, नही थम रहीं कांग्रेस की परेशानियां....


कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में भी जल्द टिकट बांटने का राग अलापा है। विधानसभा चुनावों में पार्टी ऐसा करने में नाकाम रही थी। 

बृहस्पतिवार को चुनाव तैयारियों के लिए हुई बैठक में भी वरिष्ठ नेताओं ने महासचिवों, प्रभारियों और प्रदेश अध्यक्षों को कहा कि जल्द टिकट के हिसाब से ही होमवर्क किया जाए।

बैठक में वरिष्ठ नेता एके एंटोनी, अहमद पटेल, मोतीलाल वोरा, जयराम रमेश ने पार्टी पदाधिकारियों को बताया कि चुनाव के लिए राज्यों में किस-किस तरह की तैयारी की जानी है। इस क्रम में बताया गया कि राज्यों में जल्द से जल्द बूथ स्तर की कमेटियां और अन्य प्रबंध संबंधी कमेटियां बनाई जाएंगी। 

कांग्रेस पर फिर संकट

लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस घोषणा पत्र को भी बहुत महत्व दे रही है, इसमें सभी राज्यों से मुद्दों मांगे जा रहे हैं। पूरे दिन चली बैठक में चुनाव तैयारी कैसे करनी है, उसके विभिन्न पहलुओं पर र्चचा हुई। तीन राज्यों में जीत का उत्साह इस बैठक में पदाधिकारियों पर भी साफ नजर आया। 

वरिष्ठ नेताओं ने प्रभारियों और प्रदेश अध्यक्षों को कहा कि चुनाव तैयारियों में संसाधनों समेत किसी भी तरह की कमी नहीं रहनी चाहिए। बैठक में इस विषय पर भी बात हुई कि विरोधी भाजपा से किस-किस तरह की चुनौतियां हैं और उनका किस तरह से सामना किया जाए। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल प्रदेश अध्यक्ष होने के बावजूद बैठक के लिए नहीं आ सके। 

बघेल देर शाम को दिल्ली पहुंचे और कमलनाथ के शुक्रवार को पहुंचने की संभावना है। राजस्थान के उप मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट चुनाव तैयारियों के लिए हुई बैठक में उपस्थित थे। चुनाव तैयारियों के लिए इस महीने में यह पहली बैठक नहीं थी। प्रदेश अध्यक्षों के बिना भी इस महीने से वरिष्ठ नेता बराबर कांग्रेस के वार रूम में बैठक कर रहे हैं। 

जिनमें वरिष्ठ नेता एके एंटोनी, अहमद पटेल, गुलामनबी आजाद, जयराम रमेश इत्यादि शामिल हुए हैं। इन बैठकों में चुनाव अभियान और प्रचार और घोषणा पत्र समेत कई विषयों पर र्चचा हुई है।



Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.