Breaking News

बच्चों नहीं मिल रहा मिड्डे मील का भोजन


महोबा-  केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा बच्चों को शिक्षित करने के लिए चलाई जा रहीं तमाम योजनाएं, कबरई विकासखंड के प्राथमिक विद्यालय बालक नवीन ग्योड़ी में बच्चों को पढ़ाने की वजाय करवाया जाता है काम, जिला महोबा के  कबरई विकासखंड के प्राथमिक विद्यालय बालक नवीन ग्योंड़ी में बच्चों को शिक्षा देने की वजाय उनसे मेहनत का काम करवाया जाता है | वहीं ग्रामीणों व बच्चों का कहना है कि विद्यालय में न तो ठीक से पढ़ाई होती है और मैडम सुबह आकर उपस्थिति रजिस्टर में हस्ताक्षर करके चली जाती है और छट्टी के समय आकर फिर हस्ताक्षर कर देती है और विद्यालय में खाना बनाने की लकड़ी न होने की वजह से आज नहीं बना भोजनालय में खाना आज तैहरी सब्जी का बनने थी,जब लकड़ी आयी तो टीचर नें बच्चों से भोजनालय तक लकड़ी लेते दिखे बच्चें कभी-2 तो झाड़ू लगवाना, पानी भरवाना और अन्य कई कार्य भी बच्चों से ही कराये जाते हैं |विद्यालय में छोटी छोटी बच्चों-बच्चियों से पानी भरवाते हुए कैमरे में कैद कर लिया |हालांकि इस पूरे मामले को लेकर विद्यालय के शिक्षकों में से कोई कैमरे के सामने नहीं आया |बड़ा सवाल यह है कि एक तरफ तो केंद्र और राज्य सरकार बच्चों को बेहतर शिक्षा दिलाने के लिए तमाम योजनाएं चला रही है और पीएम मोदी और सीएम योगी "बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ" जैसीं महत्वाकांक्षी योजनाओं को सफल बनाने के लिए मिशन मोड में कार्य कर रहे हैं लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही है |अब देखना दिलचस्प यह होगा कि नौनिहालों के भविष्य से खिलवाड़ कर रहे विद्यालय के शिक्षकों पर क्या कार्यवाही होती है या फिर जाँच के नाम पर मामले को दबा दिया जाएगा |

संदीप कुमार 



Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.