Breaking News

अम्बिकापुर बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायवती ने एक चुनावी सभा को संबोधित किया.


छत्तीसगढ़: अम्बिकापुर  बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायवती ने आज अम्बिकापुर मे एक चुनावी सभा को संबोधित किया. स्थानिय कलाकेन्द्र मैदान मे अपने बसपा और जेसीसी(जे) गठबंधन के लिए उपस्थित लोंगो को संबोधित करते हुए मायावती ने कांग्रेस और भाजपा दोनो को अपने अंदाज मे पछाडने का प्रयास किया. इधर मायवाती की चुनावी सभा मे उनके गठबंधन के नेता अजीत जोगी तो मंच पर नजर नही दिख पाये।

लेकिन उनके पुत्र अमित जोगी मंच और अविभाजित सरगुजा जिले के आठ विधानसभा मे गठबंधन के प्रत्याशी जरुर नजर आए. इस दौरान मायवती ने अपने भाषण की शुरुआत अपील से की. जिसमे उन्होने उपस्थित लोंगो से बसपा जेसीसी(जे) गठबंधन के ज्यादा से ज्यादा प्रत्याशी जीताकर लाने की वादा की और कहा कि इससे हम अपने गठबंधन अपने ही बलबूते पर सरकार बना सकते हैं. इस दौरान छत्तीसगढ मे अपने अस्तित्व को तलाश रहीं मायावती ने दोनो प्रमुख दलो के खिलाफ कुछ बडी बातें कही । 

इस तरह से उन्होंने कहा कि अजीत जोगी जी को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनना बेहद जरुरी बताया । साथ ही साथ  लोग सोचते हैं कि एमपी से अलग होकर बने छत्तीसगढ राज्य का विकास हुआ लेकिन अभी तक नही हुई हैं । किसान मजदूरों का विकास  नही हुआ । और मायावती का कहना हैं कि यूपी मे हमारी चार बार सरकार रही , लेकिन कभी घोषणा पत्र नही बनाया, क्योकि हम कहने से ज्यादा काम करने पर विश्वास रखते हैं । अगर देखा जाय तो लोग मजबूरी में नक्सली बने हैं. 

इसकी वजह दलित आदिवासी विरोधी सरकार है ।अगर गठबंधन की सरकार बनी तो मजबूरी में नक्सली बने लोग अपने अपने घर वापस आएगें और सच्चाई पर निरंतर अपने कार्य को करेंगे। और सरकार बनने पर अजित जोगी द्वारा किया गया वादा को पूरा किया जाएगा ।

देखा जाये तो कांग्रेस भाजपा के लोग घोषणा पत्र बना कर दावे वादे करते हैं. प्रलोभन देकर सरकार बनाते हैं, लेकिन कभी चुनावी वादों को पूरा नही किया। चुनावी वादे को पूरी करने में असफल होते रहे । आप लोग अगर अपने बच्चो का बेहतर भविष्य , उत्थान, विकास और अपने पैरो पर खडा होना चाहते है,तो उनको अब मत आजमाईए । और एक बार गठबंधन का सरकार बनाकर देखिये ।

रिपोर्टर : आलमीन अहमद



Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.