Breaking News

स्वच्छ भारत मिशन को अधिकारी व कर्मचारी कर रहे हैं फेल,सफाई कर्मी रहते है नदारद


सोनभद्र: सरकार चाहे कितनी भी योजना बना ले अगर अधिकारी व कर्मचारी नही चाहेंगे तो वो पूरा नही हो सकता।भारत सरकार द्वारा स्वच्छ भारत मिशन के तहत गाँव व शहरों को साफ-सूथरा कर स्वच्छ भारत,स्वस्थ भारत बनाने का लक्ष्य है लेकिन अधिकारी व कर्मचारी मिलकर उस सपने को असफल बनाने का प्रयास करने में लगे है।

आपको बताते चलें कि इसी उद्देश्य के साथ जनपद के विकास खण्ड बभनी के मेन बजार में जगह-जगह कूड़ादान रखकर लोगों के घरों व दुकानों से निकलने वाले कूड़े-कचरे का सही निपटान करने के लिए स्थापित किया गया है। और लोगों को इधर-उधर कूड़ा-कचरा फेकने के लिए मना भी किया गया है।लेकिन जब कुड़ादान भर गया तो उसका सही निपटान नही हो रहा।परन्तु संबन्धित अधिकारी मूकदर्शक बने हुए हैं यह हाल बभनी बाजार और चौराहे की है, जहां कूड़ादान रखे होने के बावजूद  उसके भर जाने के बाद बभनी बाजार चौराहों,गलियों में जगह जगह कूड़े का अंबार लगा हुआ है। 

इस चीज को नजरंदाज करते हुए संबंधित अधिकारी इसकी सुध लेने कभी नहीं आते‌ मुख्य बात तो यह है कि यहां के जनप्रतिनिधि को भी कोई फर्क नहीं पड़ता इतने सफाई कर्मी होने के बावजूद कभी कोई सफाई कर्मी किसी गाँव की साफ-सफाई करने नहीं जाता है। कार्यालय से प्राप्त आंकड़ो के अनुसार देखा जाय तो 40 ग्राम पंचायत में 67 सफाईकर्मी तैनात हैं। जिनमें तीन सफाईकर्मियों को  ब्लाक मुख्यालय पर संबद्ध कर दिया गया है। इसके बाद बाद भी कभी कोई सफाई कर्मी गाँवों,बाजारों,चौराहों पर साफ सफाई के लिए नहीं पहुंचता।और न ही सरकारी भवनों,परिषदीय विद्यालयों पर पहुँचते है। स्थानीय निवासियों ने इसका विरोध करना प्रारम्भ कर दिया है।

स्थानीय निवासियों ने इस बात को लेकर नाराजगी जताते हुए बताया कि यदि कोई सफाईकर्मी कभी किसी गाँव में नहीं पहुंचता है फिर भी उनकी शत् प्रतिशत उपस्थिति दर्ज कर महीने भर का वेतन कैसे लग जाता है जिसकी तत्त्काल जांच होनी चाहिए,और सम्बन्धित लापरवाह अधिकारियों पर कार्यवायी करने की मांग की। इस दौरान दीपक कुमार,प्रदीप कुमार,इन्ताफ,युवा नेता गुड्डू भाई,उदय कुमार सहित कई लोग मौजूद रहे।

 

रिपोर्टर : शकीर अख्तर

 



Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.

Related News