Breaking News

एनसीएल अखिल भारतीय सुभाष स्मृति क्रिकेट प्रतियोगिता में मेरठ बना लगातार दूसरी बार विजेता


सिंगरौली: गत विजेता मेरठ डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन की टीम ने लगातार दूसरी बार नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) की 25वीं अखिल भारतीय सुभाष स्मृति क्रिकेट प्रतियोगिता का खिताब अपने नाम कर लिया है। मेरठ ने रविवार को एनसीएल के बीना क्षेत्र के बीना स्टेडियम में खेले गए फाइनल मैच में रीवा डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन की टीम को आसानी से 7 विकेट से हराया।

प्रतियोगिता के समापन समारोह में बीना क्षेत्र के महाप्रबंधक श्री राजेंद्र राय बतौर मुख्य अतिथि और एनसीएल जेसीसी सदस्य श्री अशोक दूबे, वरिष्ठ श्रमिक संघ प्रतिनिधि श्री अरुण कुमार दूबे, सीएमओएआई के अध्यक्ष श्री तारकेश्वर प्रसाद एवं एनसीएल स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड सदस्य श्री शिवमुनि सिंह, श्री परचम प्रसाद एवं श्री खुशहाल सिंह बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित थे। 

समापन समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि श्री राजेंद्र राय ने फाइनल खेलने वाली दोनों टीमों को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई दी। साथ ही, उन्होंने कहा कि इस प्रतियोगिता के खेलने वाले खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी धाक जमाई है और उम्मीद जताई कि प्रतियोगिता के इस संस्करण के प्रतिभागी खिलाड़ी भी इसी तरह आगे की क्रिकेट में अपना मुकाम बनाएंगे।   

फाइनल में रीवा के कप्तान वेदांत मिश्रा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया, लेकिन टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही और 6वें ओवर में ही टीम ने 24 रन के स्कोर पर पंकज राठौर के रूप में अपना पहला विकेट खो दिया। इसके बाद मेरठ के गेंदबाजों ने रीवा को संभलने को कोई मौका नहीं दिया और लगातार विकेट लेते रहे। रीवा की आधी टीम 17वें ओवर में ही सिर्फ 55 रनों के स्कोर पर पैवेलियन वापस जा चुकी थी। 
28 ओवर में 81 रनों पर 8 विकेट खोने के साथ टीम 100 रनों के स्कोर से भी पहले सिमटती नजर आ रही थी। लेकिन इसके बाद प्रियंक तिवारी ने 24 और अनिल विश्वकर्मा ने 18 रन बनाकर 31 रनों की साझेदारी के साथ बमुश्किल अपनी टीम को 100 रनों का स्कोर पर कराया। रीवा की टीम 37वें ओवर में मात्र 113 रनों के स्कोर पर आउट हो गई। मेरठ की ओर से मौहम्मद कामिल ने सबसे अधिक 3 और अंकुश नागर, अंकुर चौहान एवं कप्तान माधव पी॰ सिंह ने 2-2 विकेट लिए।  

जवाब में मेरठ को ओपनर शिवम बंसल ने मात्र 18 गेंदों में 6 चौक्कों के साथ 25 रन बनाते हुए अपनी टीम को तेज शुरुआत दी और 6वें ओवर में ही अपनी टीम का स्कोर 49 रन तक ले गए। उनके साथी ओपनर दिव्यांश ने 55 गेंदों में 11 चौक्कों के साथ नाबाद 62 रन बनाकर अपनी टीम को 18वें ओवर में ही आसान जीत दिलाई। बल्लेबाजी की तरह गेंदबाजी में भी रीवा की ओर से सिर्फ प्रियंक तिवारी ही कुछ संघर्ष कर सके और उन्होंने सबसे अधिक दो विकेट लेकर मेरठ को विजयी लक्ष्य से दूर रखने की पूरी कोशिश की।
मेरठ के दिव्यांश को फाइनल में उनकी शानदार बल्लेबाजी के लिए मैन ऑफ मैच चुना गया। सबसे अधिक 101 रन बनाने वाले रीवा के मेहुल सिंह प्रतियोगिता के बेस्ट बैट्समैन चुने गए, जबकि 7 विकेट लेने वाले मेरठ के मौहम्मद कामिल बेस्ट बोलर बने। प्रतियोगिता में सबसे अधिक 10 विकेट लेने वाले मेरठ के अंकुर चौहान मैन ऑफ सिरीज़ बने। विजेता टीम को 1 लाख रुपए और उपविजेता टीम को 75 हजार रुपए की राशि इनाम स्वरूप ट्रॉफी के साथ दी गईं। 

फाइनल मैच एवं समापन समारोह में बड़ी संख्या में बीना क्षेत्र के अधिकारी-कर्मचारी, उनके परिजन, श्रमिक एवं अधिकारी संघों के प्रतिनिधि उपस्थित थे। एक सप्ताह तक चली प्रतियोगिता में बीना क्षेत्र के आस-पास के दर्शकों ने बड़ी सख्या में क्रिकेट का जमकर लुत्फ उठाया।

रिपोटर : ओम प्रकाश शाह

 



Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.