Breaking News

जानिए...गढवाल सांसद भुवनचंद्र खंडूरी जी के पांच साल का रिकॉर्ड


उत्तराखण्ड: पांचो निवर्तमान सांसदों में से निवर्तमान गढ़वाल सांसद भुवन चन्द्र खंडूड़ी अपने संसदीय क्षेत्र की सांसद निधि खर्च करने में पूरी तरह से फिस्सडी साबित हुए हैं यही कारण रहा है की विकास की धीमी गति ने यहाँ पलायन का अकड़ा भी बढ़ा डाल उत्तराखंड में लोक सभा चुनाव का बिगुल बज चूका है ऐसे में बीजेपी कांग्रेस समेत तमाम पार्टिया एक बार फिर से विकास के बड़े बड़े दावे जनता से करने को तैयार है लेकिन पौड़ी संसदीय सीट से निवर्तमान गढ़वाल सांसद भुवन चन्द्र खंडूड़ी अपना आधा बजट भी खर्च नही कर रही पाये जी हैं.

निवर्तमान सांसद खंडूड़ी महज 7 करोड़ के लगभग तक का ही बजट इन पांच सालो में खर्च कर पाये जबकी हर सांसद को 5 करोड़ का बजट हर साल खर्च करने के लिए दिया जाता है ऐसे में 25 करोड़ तक की सांसद निधि हर सांसद को विकास कार्यो में लगाने की लिए दी जाती है और इसे आधा भी खर्च न करना उन विकास के दावों की पोल भी खोल रहा है जो को चुनाव से पहले जनता से हुए थे बताते चले की वर्ष 2014-15 में ही 5 करोड के सापेक्ष 4 करोड़ 54 लाख की धनराशि पहले वर्ष खर्च की गयी जबकि इसके बाद 2015-16 में 2 करोड़ 92 लाख  को धनराशि खर्च की गयी वहीँ 2016-17-और वर्ष 2018-19 में कोई सांसद निधि खर्च ही नही हुई वहीँ निवर्तमान सासंद बी सी खंडूड़ी भी पिछले दो सालो से अपने संसदीय क्षेत्र नही पहुँचे जिससे जनता भी गढ़वाल सांसद के कार्यकाल से काफी नाखुश नजर आ रही है.

गढ़वाल के कई गॉव आज भी सड़क से नही जुड़ पाये हैं वहीँ शिक्षा स्वास्थ बिजली पानी की समस्या से आज कई गावो के गांव खाली होते चले गए आबाद खेत भी बंजर होते चले गए जबकि सांसद निधि को बराबर खर्च किया जाता तो विकास की गति से पलायन पर भी रोक लगती साँसद निधि का अधिकतर बजट महज छोटे कार्यो पर ही खर्च किया गया है जबकि सुमाड़ी में एनआइटी परिसर निर्माण पहाड़ो की लड़खड़ाती सेवा शिक्षा हालत सुधरी जा सकती थी वहीँ कई तमाम बड़े कार्यो पर इसे लगाया जाता तो संसदीय क्षेत्र की तस्वीर बदल सकती थी अधिकतर कार्य पूरा हो सकता था साथ ही सड़को की हालत भी यहाँ काफी खस्ता है जिससे भी जनता परेशान है विकास न होने के चलते गांव के गांव आज पौड़ी में खाली हो गए हैं और कई खेत बंजर ऐसे में चौमुखी विकास नजर ही नही आ रहा।
विकास कार्य कितनी प्रगति पर रहे होंगे इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है की 2 हजार 557 विकास कार्यो में से महज 357 कार्य ही गढ़वाल संसदीय क्षेत्र में पूरे हो पाये जबकि 2 हजार 146 कार्य आरम्भ ही नही हो पाये वहीँ 74 कार्य अब भी प्रगति पर हैं विकास कार्यो को हाल संसदीय क्षेत्र के विकास को दर्शा रहा है जिसमे पौड़ी रुद्रप्रयाग चमोली समेत नैनीताल और टिहरी गढ़वाल की भी कुछ क्षेत्र सम्मलित हैं।

वहीँ सांसद निधि खर्च न कर पाने पर बीजेपी नेता निवर्तमान सांसद का बचाव करते भी दिख रहे हैं और निवर्तमान सांसद का स्वस्थ खराब बताने पर बीजेपी की साख बचा रहे हैं। पहाड़ो की जनता पहाड़ विकास वादी सोच को लेकर ही अपना अमूल्य वोट प्रतिनिधि को डालती है ऐसे में उनकी उम्मीदों पर पानी फिर जाना जतना के मन को ठेस भी पहुंचा रहा है।

रिपोर्टर : इन्द्रजीत



Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.