विश्व में तंबाकू सेवन से प्रतिवर्ष 80 लाख लोगों की होती है मृत्यु

विश्व में तंबाकू सेवन से प्रतिवर्ष 80 लाख लोगों की होती है मृत्यु
 विश्व में भारत तंबाकू का दूसरा सबसे बड़ा कंज्यूमर
भारत में हर दिन लगभग 2700 लोगों की का कारण है तंबाकू
कैंसर सहित अन्य घातक बीमारियों को जन्म देता है तंबाकू
 तंबाकू के दुष्प्रभावों को जानना है जरूरी
विश्व तंबाकू निषेध दिवस का उद्देश्य है कि लोग जागरूक हो

दुनिया भर में हर साल 31 मई को नो टोबैको डे यानि विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जाता है। इस दिन को मनाने के लिए हर साल थीम भी रखी जाती है। इस साल यानि 2021 में इसकी थीम है ‘छोड़ने के लिए प्रतिबद्ध’ अर्थात Commit to Quit है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन यानि WHO ने नो टोबैको डे की शुरुआत की थी। 1987 में तंबाकू के सेवन से होने वाली मौते में वृद्धि को देखते हुए इसे एक महामारी माना गया था। इसके बाद पहली बार 7 अप्रैल 1988 को WHO की वर्षगांठ पर इसे मनाया गया और फिर हर साल 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस के रूप में मनाया जाने लगा। वर्ल्ड नो टोबैको डे का उद्देश्य तंबाकू या इसके उत्पाद पर रोक लगाने या इस्तेमाल को कम करने के लिए लोगों को जागरुक करना है। ताकि लोगों का स्वास्थ्य ठीक रहे और वे ना केवल ‘धूम्रापान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है, जैसी लाइनें सिर्फ सुनें या पढ़ें बल्कि इसे अपनाएं भी। बता दें कि विश्व में भारत तंबाकू का दूसरा सबसे बड़ा कंज्यूमर है। भारत में तंबाकू सेवन करने वालों की संख्या लगभग 27 करोड़ है।

आंकड़ों के अनुसार भारत में हर दिन लगभग 2700 लोगों के मृत्यु का कारण तंबाकू बनती है। ग्लोबल एडल्ट तंबाकू सर्वेक्षण 2016-17 के अनुसार भारत में 42.47% पुरुष तथा 12.24% महिलाएं तंबाकू का प्रयोग करती हैं। सेकंड हैंड स्मोकिंग भी इस दौर में जानलेवा साबित हो रहा है।WHO के मुताबिक, तंबाकू के विपरीत प्रभाव की वजह से विश्व में हर साल लगभग 80 लाख लोगों की मौत हो जाती है। गौरतलब है कि तंबाकू कई गंभीर बीमारियों की वजह बन सकता है। 

जैसे कि फेफड़े के रोग, ट्यूबरकुलोसिस, क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (सीओपीडी) आदि। इतना ही नहीं, इससे फेफड़े का कैंसर और मुंह का कैंसर भी हो सकता है। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में सभी तरह के कैंसरों में तंबाकू का योगदान तकरीबन 30 फीसदी है। वर्तमान समय  में कोरोना महामारी को देखते हुए और भी जरूरी हो जाता है की हम सभी लोग तंबाकू के दुष्प्रभाव के बारे में जाने और तंबाकू अथवा तंबाकू के अन्य उत्पादों के सेवन से बचें। हेल्दी लाइफ़स्टाइल के लिए सभी को तंबाकू के हानिकारक प्रभावों के बारे में जागरूक होना बहुत जरूरी है।

Leave a Reply



comments

Loading.....
  • No Previous Comments found.