दुर्गाष्टमी के दिन बनाये ये स्वादिष्ट हलवा...पढ़िए हलवा बानने की आसान सी रेसिपी

आज नवरात्री का अटवा दिन है यानि आज अष्टमी है . अष्टमी और नवमी के दिन कन्या पूजन करना शुभ माना जाता है . जिसमे हम  9 दिन उपवास रख कर माता को प्रशान्न करते है उसी तरह हमे अष्टमी और नवमी के किसी एक दिन 9 कन्याओ को माता दुर्गा का पसंदीदा भोजन हलवा पुड़ी खिलाया जाता है ....और ये भी माना जाता है ये 9 कन्याओ माता दुर्गा के 9 रूपों को हम भोजन करा रहे है ...इस लिए कन्या पूजन में हलवा पुड़ी खिलाना शुभ माना जाता है ... ऐसे में अगर आप माता को खुश करने के लिए भोग में हलवा चना बनाने की सोच रहे हैं तो हम आपको बहुत स्वादिष्ट हलवा-चने बनाने की आसान रेसिपी बताने जा रहे हैं।

हलवा बनाने के लिए सामग्री-

कप सूजी
इलायची पाउडर
चीनी
काजू पाउडर
 मिक्स ड्राई फ्रूट्स
 देसी घी आवश्यकता अनुसार

हलवा बनाने की रेसिपी

सबसे पहले सूची का हलवा बनाने के लिए मध्यम आंच पर एक पैन में घी गरम करें। फिर उसमें सूजी डालकर हल्का सुनहरा होने तक भून लें। जब सूजी का रंग हल्का भूरा होने लगे तो इसमें पानी डालकर चलाते रहें।  इसके बाद हलवा गाढ़ा होने लगे तो चीनी और काजू पाउडर मिलाकर चीनी के घुलने दें। फिर इलायची पाउडर डालकर हल्का पका लें। अब गैस बंद कर दें। आपका हलवा तैयार है। पैन से प्लेट में सर्व करें और ऊपर से ड्राई फ्रूट्स डालकर गार्निश करें।

चने बनाने के लिए सामग्री-

काला चना, कटी हरी धनिया, घी, हरी मिर्च, जीरा, हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर, अमचूर पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, गरम मसाला, नमक।

चना बनाने की विधि

काले चने को अच्छे से धो कर रात भर पानी में भिगोकर रख दें। सुबह अब भीगे चने को एक बार फिर पानी से धोकर कुकर में पानी और नमक डालकर उबाल लें। चने को एक सीटी आने तक पकाएं। उसके बाद आंच मध्यम करके दो मिनट पकाएं फिर गैस बंद कर दें और चने को प्रेशर कुकर से निकाल लें।

अब एक कड़ाही में तेल गरम करें, फिर उसमें जीरा, कटी मिर्च, अदरक डालकर भून लें। अब धनिया, हल्दी पाउडर डालकर थोड़ा और भूनें।
इसके कड़ाही में पानी डालें और चने मिलाएं। फिर उसमें अमचूर पाउडर, लाल मिर्च पाउडर और गर्म मसाला डालकर मिला लें। अब आंच गर्म करके चने को तब तक पकाएं जब तक चनों में गाढ़ापन न आ जाए। फिर गैस बंद करके हरि धनिया डालकर सर्व करें।  

 

Leave a Reply



comments

Loading.....
  • No Previous Comments found.