आखिर क्यों नेता जी खोज रहे जीताऊ ठिकाना?....

यूपी विधानसभा चुनाव से पहले नेता जीताऊ ठिकाने की तलाश में वे पार्टी फेरबदल कर रहे हैं. जिस किसी को मौजूदा पार्टी से टिकट कटने का डर है या मौजूदा परिस्थिति में पार्टी बदलने पर वोटबैंक का फायदा नजर आ रहा है. वो नेता इधर से उधर भाग रहे है.

क्या विधायक, क्या सांसद?..इनकी तो बात छोड़िए जनाब... सूबे के मंत्री तक भी अपनी जीत के ठिकाने की तालाश में इधर उधर भाग रहे है. अभी तक जिन्हें जनता की चिंता नहीं थी. लेकिन जब चुनाव नजदीक आया तो उन्हें जनता की चिंता आ पड़ी. नेताओं के लिए अचूक उपाय ये भी है कि जनता में जाने पर जबाव न देना पड़े.

योगी सरकार में कैविनेट मंत्री रहे स्वामी प्रसाद मौर्या ने अपने पद से इस्तीफा दिया है जिससे प्रदेश के सियासत में भूचाल आ गया है. मौर्या के साथ बीजेपी के चार और विधायकों ने भी पार्टी छोड़ दी है. पूर्व कैविनेट मंत्री और उनके साथ आए विधायकों का कहना है कि वे 14 जनवरी को सपा में शामिल होंगे.

अभी बीजेपी के 1 मंत्री समेत 5 विधायकों के बगावत की खबरे थमी नहीं थी कि बुधवार को योगी कैविनेट में मंत्री रहे, दारा सिंह चौहान भी भाजपा से बागी हो गए..उन्होंने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. इसी बीच स्वामी मौर्य ने 14 अन्य विधायकों के भी इस्तीफा देने का दांवा किया है. जो आने वाले समय में भाजपा की सिरदर्द को बढ़ा सकता है.

Leave a Reply



comments

Loading.....
  • No Previous Comments found.