पुलिस थाने में उप निरीक्षक और महिला सिपाही की 'प्रेम चर्चा', उसके बाद हुआ ये सब.......

पुलिस थाने में उप निरीक्षक और महिला सिपाही की 'प्रेम चर्चा', उसके बाद हुआ ये सब.......

ज्ञानपुर,भदोही:-कहते हैं कि इश्क छुपाए नहीं छुपाता। ऐसी ही एक प्रेम कहानी है वर्तमान में सोनभद्र जनपद के थाना हाथीनाला में तैनात पुलिस उप निरीक्षक और महिला सिपाही की। दोनों ने अपने रिश्ते को छुपाने की बहुत कोशिश की लेकिन ऐसा हो नहीं सका। प्यार का मामला बड़ा तब हो गया जब महिला सिपाही ने अपने पति आजमगढ़ जिले के ग्राम खैरुद्दीन पुर अहिरौला निवासी के खिलाफ दहेज प्रथा व महिला उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज करा दिया। यहां दोनों ने अपने रिश्ते के बारे में विभागीय कर्मियों को भी बता दिया। फिर खुशी-खुशी उप निरीक्षक सूर्यभान और प्रवेश कुमार यादव की पत्नी व महिला आरक्षी सुनीता यादव  के थाने में ही दोनों ने अवैध सम्बन्ध बना लिया।
 
विवाहिता महिला पुलिस आरक्षी के पति ने लगाई उच्चाधिकारियों से न्याय की गुहार

आजमगढ़ जिले के प्रवेश कुमार यादव पुत्र आत्मा प्रकाश यादव निवासी ग्राम खैरपुर उच्चाधिकारियों को पत्र लिखकर न्याय की गुहार लगाई है। पुलिस उच्चाधिकारियों को प्रार्थना पत्र देकर कहा है कि प्रार्थी की शादी श्रीमती सुनीता यादव पुत्री रूपचंद यादव ग्राम टीकापुर थाना तहबरपुर (आजमगढ़) के साथ हिन्दू रीति-रिवाज से हुई थी। प्रशिक्षण के दुर्योपरांत सुनीता यादव की नियुक्ति थाना जमालपुर मिर्जापुर में बतौर आरक्षी पद पर हुई।तत्समय थाना जमालपुर जनपद मिर्जापुर में थाना उप निरीक्षक सूर्यभान यादव थे। जिन्होंने मेरी पत्नी सुनीता यादव को बहला फुसलाकर एवं विविध प्रलोभन से नाजायज संबंध बना लिए। जिसके कारण मेरी पत्नी सुनीता यादव मुझसे बात चीत करना व मिलना जुलना बंद कर दी। इसी बीच उप निरीक्षक का स्थानांतरण जनपद भदोही में चौरी थानाध्यक्ष पद पर हो गया।

कुछ समयोपरांत उ०नि० सूर्यभान द्वारा मेरी पत्नी सुनीता यादव का भी स्थानांतरण मिर्जापुर से भदोही कराकर थाना चौरी पर नियुक्ति करा लिया। उपनिरीक्षक सूर्यभान और महिला आरक्षी व मेरी पत्नी सुनीता यादव के अवैध संबंध की चर्चा पुलिस विभाग में भी जोरों पर रही है। मैं जब अपनी पत्नी सुनीता यादव को घर आने के लिए कहता हूं तो वह कहती है कि मेरा सम्बन्ध दरोगा से है। मैं तुम्हारे यहां नहीं आउंगी। जब मैं अपने घर आने के लिए उसके मायके वालों से कहा तो उसने मेरे ऊपर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज करा दिया। वर्तमान में मेरी पत्नी सुनीता भदोही थाने में तैनात है।तथा उप निरीक्षक सूर्यभान चौरी से हटकर बतौर थानाध्यक्ष हाथीनाला( सोनभद्र) में नियुक्त हैं। वर्तमान समय में अवकाश के दिनों सूर्यभान भदोही तथा पत्नी सुनीता यादव भी अवकाश पर हाथीनाला जाकर सूर्यभान के साथ रहती है।उप निरीक्षक सूर्यभान वह सुनीता यादव के मोबाइल नंबर के सीडीआर से भी स्पष्ट है। सूर्यभान के उक्त कृत्य से प्रार्थी का परिवार टूटने के कगार पर है। तथा मेरी बच्ची बुलबुल उर्फ़ अनन्या का भविष्य अंधकारमय होता जा रहा है। मेरी पत्नी सुनीता यादव यह भी धमकी देती है कि मेरा सम्बन्ध दरोगा से है, तुम्हारी हत्या करवा दूंगी। पुलिस अधीक्षक भदोही और पुलिस महानिरीक्षक वाराणसी जोंन से प्रवेश कुमार यादव ने न्याय की फरियाद लगाई है।

रिपोर्टर जावेद अली

Leave a Reply



comments

Loading.....
  • No Previous Comments found.