बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण आंदोलन में सहयोग करना हमारा नैतिक दायित्व

झांसी। आज बुन्देलखण्ड हमारी मातृभूमि है। बुन्देलखण्ड राज्य निर्माण आंदोलन में सहयोग करना हमारा नैतिक दायित्व है। इस आंदोलन में सहयोग करने से हमारे कुछ व्यक्तिगत आकांक्षाओं के पूरे होने का संकट तो है,लेकिन हमें इन  संकटों से ऊपर उठकर सोचना होगा। हमें बुंदेलखंड को लूटने वाले लोगों से भी निपटना होगा।

बुंदेलखंड की धरती पर रह कर अपनी रोजी रोटी चलाने वाले और आंदोलन को गलत बताने वाले स्वार्थियों को भी समझना होगा। बहुत परेशानी होने के बावजूद हमें बुंदेलखंड राज्य के लिए संघर्ष करना है। आप साथ आइए , बुंदेलखंड की धरती आपको पुकार रही है। हमारे राष्ट्रवाद में पहले बुंदेलखंड है फिर भारत है।
 

 

Leave a Reply



comments

Loading.....
  • No Previous Comments found.